अपनी मंडी का भाव जानने के लिए कृपया अपने राज्य का चयन करके अपने जिले की मंडी का भाव जाने |

तीन महीने में लहसुन के दाम तीन गुना घटे

कृषि मंडी में लहसुन -प्याज की बंपर आवक हुई। मंगलवार को लहसुन 1820 रुपये क्विंटल नीलाम हुई। इधर, मंडी में नए लहसुन की आवक में भी बढ़ोतरी हो रही है। जानकार 10 से 15 दिन बाद नए लहसुन की आवक में तेजी बता रहे हैं। इधर, तीन महीने में ही लहसुन के दाम तीन गुना से अधिक कम हो गए है। बाजार के जानकारों के अनुसार वर्तमान में डिमांड स्थिर है, साथ ही नए लहसुन में अधिक नमी होने के कारण व्यापारी अधिक माल नहीं ले रहे हैं। दाम में बढ़ोतरी आवक व मांग पर ही निर्भर होगी। फल सब्जी मंडी में भी लहसुन की आवक में तेजी देखी गई। नए लहसुन की आवक में भी धीरे- धीरे बढ़ोतरी देखी जा रही है। लहसुन में नमी अधिक होने के कारण व्यापारी भी अधिक मात्रा में खरीदी करने से बच रहे हैं। सामान्य लहसुन 300 रुपए से 2170 रुपये प्रति क्विंटल नीलाम हुई।


 

नए सीजन की आवक में अनुमानित 15 दिन बाकी बाजार के जानकार व लहसुन व्यापारी मनोज कुशवाह ने बताया कि नए लहसुन के आवक में तेजी देखी गई है, लेकिन 10 से 15 दिन बाद ही आवक में अधिक तेजी देखी जाएगी। अभी नए सीजन की अधिक आवक में अनुमानित 15 दिन बाकी है। वहीं, दाम बाहरी डिमांड पर आधारित हैं। वर्तमान समय में डिमांड स्थिर बनी हुई है इसलिए दामों में कोई विशेष फर्क नहीं देखने को मिला है। क्वालिटी के आधार पर ही दाम मिलते हैं। साथ ही आवक भी दाम को प्रभावित करती है।फल सब्जी मंडी व्यापारी संघ के अध्यक्ष नरेंद्र कुशवाह के अनुसार लहसुन के दामों में लगातार गिरावट देखने को मिल रही है। जानकारी के अनुसार तीन महीने में मंडी में लहसुन के दामों में तीन गुना से अधिक कमी देखने को मिली है। 24 नवंबर 2021 को जहां लहसुन न्यूनतम 1 हजार रुपये व अधिकतम 10 हजार रुपए प्रति क्विंटल बिका था, वहीं, 25 जनवरी को न्यूनतम 300 रुपए व अधिकतम 2170 रुपये प्रति क्विंटल ही बिका। प्याज 200 से 1820 रुपये क्विंटल नीलाम हुई


 


All News